Bharat Ki Jansankhya Kitni Hai? भारत की जनसंख्या कितनी है? (2022)

Bharat Ki Jansankhya Kitni Hai: नमस्कार दोस्तों, आज इस पोस्ट में हम आपको बताएंगे कि भारत की जनसंख्या कितनी है (Bharat Ki Jansankhya Kitni Hai) तो दोस्तों क्या आप जानते हैं भारत की वर्तमान जनसंख्या कितनी है, यदि आप नहीं जानते हैं तो आप सही जगह पर आए हैं आज मैं जा रहा हूँ इस पोस्ट में चर्चा करने कि भारत की वर्तमान जनसंख्या क्या है तो दोस्तों आप अंत तक बने रहें और अपने सभी सवालों के जवाब पाएं।

भारत की जनसंख्या कितनी है?

हर 10 सालों के बाद 11वे साल में जनगणना की जाती है। जिससे देश में कितनी जनसंख्या है इसका सही-सही पता चल जाता है। आपको बता दें की यह भारत देश की सोलहवीं जनगणना है। यूनाइटेड नेशन के वोर्ल्डोमीटर (worldometer) के अनुसार 26 जुलाई 2021 तक भारत की जनसंख्या 1,394,420,224 है। आपको बता दें की भारत का सबसे ज्यादा आबादी वाला राज्य उत्तर प्रदेश है जो प्रथम स्थान पर है और दूसरे स्थान पर महाराष्ट्र राज्य है।

Bharat ki jansankhya kitni hai 2022 – भारत की जनसंख्या कितनी है 2022

Bharat Ki Jansankhya Kitni Hai? भारत की जनसंख्या कितनी है ?
Bharat Ki Jansankhya Kitni Hai? भारत की जनसंख्या कितनी है ?

आप सभी जानते हैं कि भारत की जनगणना हर 10 साल में होती है। 2011 तक, भारत की जनसंख्या 121 करोड़ बताई गई थी। भारत में पहली जनगणना 1872 में ब्रिटिश भारत द्वारा की गई थी। तब भारत की जनसंख्या 12.1 करोड़ थी। 2011 के बाद जनगणना अभी पूरी नहीं हुई है, कोरोना महामारी के कारण 2021 की जनगणना नहीं हो सकी थी, लेकिन अब तक भारत की जनसंख्या 2022 में 140 करोड़ तक पहुंचने का अनुमान है। 2020 तक भारत की जनसंख्या लगभग 138 करोड़ थी और अब यह 140 करोड़ तक पहुंच गई है। और यह भी माना जाता है कि भारत दुनिया के हर 100 लोगों में से 18 का घर है। अगर ऐसा ही चलता रहा तो भारत जनसंख्या के मामले में चीन से आगे निकल जाएगा।

Read also: OBC / EWS जनगणना – क्वांटिफायबल डाटा आयोग पंजीयन | Chhattisgarh Quantifiable Data Commission (CGQDC) Registration at cgqdc.in

पहले के समय में भारत की जनगणना घर-घर जाकर सरकार करती थी, लेकिन आजकल कई वेबसाइटें हैं जो जनगणना कराती हैं, इनमें से भारत की जनसंख्या दर हर दस साल में 17.64 है। % और पहले दस वर्षों में दर 21.54% थी, इसका मतलब है कि लोग आबादी के प्रति जागरूक हो रहे हैं। और सरकार भी जनसंख्या नियंत्रण के बारे में लोगों को जागरूक कर रही है लेकिन भारत में शहर के लोग जागरूक हो रहे हैं लेकिन अभी भी गांव के लोगों को जागरूक करने की जरूरत है। क्योंकि अधिक जनसंख्या भी हानिकारक है।

भारत की जनसंख्या 1951 से 2022 तक

  • 1951 – 361,088,090 – 13.32%
  • 1961 – 438,936,918 – 21.62%
  • 1971 – 548,160,050 – 24।8%
  • 1981 – 683,329,900 – 25%
  • 1991 – 838,583,988 – 26.9%
  • 2001 – 1,028,737,436 – 21.5%
  • 2011 – 1,210,193,422 – 17.70%
  • 2022 – 1,404,234,872.

भारत के राज्यों की जनसंख्या 2022

भारत में कुल 29 राज्य और 7 केंद्र शासित प्रदेश हैं। भारत की 2011 की जनगणना के अनुसार उत्तर प्रदेश सबसे अधिक आबादी वाला राज्य है और सिक्किम का पूर्वोत्तर राज्य सबसे कम आबादी वाला राज्य है, तो अब हम आपको बताएंगे कि भारत के इन सभी राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों की कुल जनसंख्या कितनी है?

क्रमराज्य/केन्द्र शासित प्रदेश2011 जनगणना रिपोर्ट के अनुसार कुल जनसंख्या2021 के अनुसार कुल जनसंख्या (अनुमान)
1उत्तर प्रदेश19,98,12,34124.1 Crores
2महाराष्ट्र11,23,74,33312.47 Crores
3बिहार10,40,99,45212.7 Crores
4पश्चिम बंगाल9,12,76,11510 Crores
5आंध्र प्रदेश8,45,80,7775.46 Crores
6मध्य प्रदेश7,26,26,8098.68 Crores
7तमिलनाडु7,24,47,0307.88 Crores
8राजस्थान6,85,48,4738.24 Crores
9कर्नाटक6,10,95,2976.84 Crores
10गुजरात6,04,39,6926.48 Crores
11ओडिशा4,19,74,2184.68 Crores
12केरल3,34,06,0613.58 Crores
13झारखण्ड3,29,88,1343.9 Crores
14असम3,12,05,5763.6 Crores
15पंजाब2,77,43,3383 Crores
16छत्तीसगढ़2,55,45,1983 Crores
17हरियाणा2,53,51,462 2.86 Crores
18दिल्ली1,67,87,9413.5 crores
19जम्मू-कश्मीर1,25,41,3021.36 Crores
20उत्तराखण्ड1,00,86,2921.14 Crores
21हिमाचल प्रदेश68,64,60275.1 Lakhs
22त्रिपुरा36,73,91742 Lakhs
23मेघालय29,66,88934.4 Lakhs
24मणिपुर27,27,74931 Lakhs
25नागालैंड19,78,50223 Lakhs
26गोवा14,58,54515.9 Lakhs
27अरुणाचल प्रदेश13,83,72716 lakhs
28पुदुचेरी12,47,95313 lakhs
29मिजोरम10,97,20612.6 Lakhs
30चण्डीगढ़10,55,45011.6 Lakhs
31सिक्किम6,10,5777 Lakhs
32अंडमान निकोबार द्वीपसमूह3,80,5814 Lakhs
33दादरा एवं नागर हवेली3,43,7093 Lakhs
34दमन एवं दीव2,43,2473 Lakhs
35लक्षद्वीप64,47366,001

The population of India (2020 and historical)

YearPopulationYearly %
Change
Yearly
Change
Migrants (net)Median AgeFertility RateDensity (P/Km²)Urban
Pop %
Urban PopulationCountry’s Share of
World Pop
World PopulationIndia
Global Rank
20201,380,004,3850.99 %13,586,631-532,68728.42.2446435.0 %483,098,64017.70 %7,794,798,7392
20191,366,417,7541.02 %13,775,474-532,68727.12.3646034.5 %471,828,29517.71 %7,713,468,1002
20181,352,642,2801.04 %13,965,495-532,68727.12.3645534.1 %460,779,76417.73 %7,631,091,0402
20171,338,676,7851.07 %14,159,536-532,68727.12.3645033.6 %449,963,38117.74 %7,547,858,9252
20161,324,517,2491.10 %14,364,846-532,68727.12.3644533.2 %439,391,69917.75 %7,464,022,0492
20151,310,152,4031.20 %15,174,247-470,01526.82.4044132.7 %429,069,45917.75 %7,379,797,1392
20101,234,281,1701.47 %17,334,249-531,16925.12.8041530.8 %380,744,55417.74 %6,956,823,6032
Bharat Ki Jansankhya Kitni Hai? भारत की जनसंख्या कितनी है?

बढ़ती जनसंख्या के नुकसान

देश में जनसंख्या वृद्धि के कई नुकसान हैं, आइए जानते हैं जनसंख्या वृद्धि के क्या नुकसान हैं –

  1. बेरोजगारी – देश में बढ़ती जनसंख्या के कई नुकसान है जैसे की बेरोजगारी आज के समय में बेरोजगारी इतनी बाद चुकी है की पढ़े लिखे लोग भी आजकल नौकरी न होने के कारण छोटा मोटा काम कर रहें है इसका मुख्या कारन बढ़ती हुई आबादी ही है क्योंकि अगर आबादी कम होगी तो लोगो को नौकरियों ढूंढ़ने में परेशानी नहीं आएगी।
  2. महंगाई – कही न कही देश में बढ़ती महंगाई का कारण भी बढ़ती जनसंख्या भी है क्योंकि जब लोग बढ़ेंगे तो उनकी जरूरते भी बढ़ेंगी लेकिन सामान की कमी होगी तो इसलिए सामान की कमी की वजह से उसी सामान को महंगा बेचते है।
  3. प्रदुषण – देश में प्रदुषण बढ़ने का कारण भी बढ़ती जनसंख्या ही है क्योंकि आज कल हर कोई व्यक्ति अपना वाहन चलता है तो जितने अधिक लोग होंगे उतने ही अधिक वाहन होंगे और जितने अधिक वाहन होंगे उतना ही अधिक प्रदुषण होगा।
  4. शिक्षा का अभाव – देश में बढ़ती जनसँख्या के कारन कई बच्चो को शिक्षा भी प्राप्त नहीं हो पाती क्योकि जिन गरीब बच्चो के 2 या 2 से अधिक बच्चे होते वे अपने बच्चो की शिक्षा का खर्च उठाने असमर्थ हो जाते है और उनके बच्चे अशिक्षित रह जाते हैं।

दुनिआ के 10 अधिक जनसंख्या वाले देश 2022

Bharat Ki Jansankhya Kitni Hai? भारत की जनसंख्या कितनी है ?
Bharat Ki Jansankhya Kitni Hai? भारत की जनसंख्या कितनी है ?

अब हम आपको दुनिया के सबसे अधिक जनसंख्या वाले 10 देशों के नाम नीचे निम्नलिखित रुप में बताएंगे जो इस प्रकार है:-

क्रम.देशजनसँख्या (अनुमान)
01China1,445,846,085
02India1,396,105,140
03United States333,288,940
04indonesia276,960,763
05Pakistan226,075,465
06Brazil214,343,342
07Nigeria212,377,827
08Bangladesh166,636,966
09Russia146,007,425
10Mexico130,542,338
Bharat Ki Jansankhya Kitni Hai? भारत की जनसंख्या कितनी है ?

जनसंख्या के हिसाब से शीर्ष शहर 2022

शहर का नामआबादी
मुंबई12,691,836 करोड़
दिल्ली10,927,986 करोड़
बेंगलुरु5,104,047 करोड़
कोलकाता4,631,392 करोड़
चेन्नई4,328,063 करोड़
अहमदाबाद3,719,710 करोड़
हैदराबाद3,597,816 करोड़
पुणे2,935,744 करोड़
पत्र2,894,504 करोड़
कानपुर2,823,249 करोड़
जयपुर2,711,758 करोड़
नवी मुंबई2,600,000 करोड़
लखनऊ2,472,011 करोड़
नागपुर2,228,018 करोड़
इंदौर1,837,041 करोड़
पटना1,599,920 करोड़
भोपाल1,599,914 करोड़
लुधियाना1,545,368 करोड़
तिरुनेलवेली1,435,844 करोड़
आगरा1,430,055 करोड़
वडोदरा1,409,476 करोड़
गोरखपुर1,324,570 करोड़
नासिक1,289,497 करोड़
पिंपरी1,284,606 करोड़
कल्याण1,262,255 करोड़
थाइन1,261,517 करोड़
मेरठ1,223,184 करोड़
नवरंगपुर1,220,946 करोड़
फरीदाबाद1,220,229 करोड़
गाज़ियाबाद1,199,191 करोड़
Dombivli1,193,000 करोड़
राजकोट1,177,362 करोड़
वाराणसी1,164,404 करोड़
अमृतसर1,092,450 करोड़
इलाहाबाद1,073,438 करोड़
विशाखापत्तनम1,063,178 करोड़
टेनी1,034,724 करोड़
जबलपुर1,030,168 करोड़
घंटे1,027,672 करोड़
औरंगाबाद1,016,441 करोड़
Shivaji Nagar1,000,000 करोड़
सोलापुर997,281 करोड़
श्रीनगर975,857 करोड़
चंडीगढ़960,787 करोड़
कोयंबटूर959,823 करोड़
जोधपुर921,476 करोड़
मदुरै909,908 करोड़
गुवाहाटी899,094 करोड़
ग्वालियर882,458 करोड़
विजयवाड़ा874,587 करोड़
मैसूर868,313 करोड़
रांची846,454 करोड़
हुबली840,214 करोड़
जालंधर785,178 करोड़
तिरुवनंतपुरम784,153 करोड़
सलेम778,396 करोड़
तिरुचिरापल्ली775,484 करोड़
शहर763,088 करोड़
भुवनेश्वर762,243 करोड़
अलीगढ़753,207 करोड़
बरेली745,435 करोड़
मुरादाबाद721,139 करोड़
भिवंडी707,035 करोड़
रायपुर679,995 करोड़
गोरखपुर674,246 करोड़
Bhilai625,138 करोड़
जमशेदपुर616,338 करोड़
बोरीवली609,617 करोड़
कोचीन604,696 करोड़
अमरावती603,837 करोड़
Bharat Ki Jansankhya Kitni Hai? भारत की जनसंख्या कितनी है ?

भारत में सबसे कम आबादी वाले राज्य:

बहुत कम लोग जानते हैं कि भारत में सबसे कम आबादी वाले राज्यों में से कौन से राज्य हैं, तो दोस्तों आइए भारत में सबसे कम आबादी वाले राज्यों पर एक नज़र डालते हैं। मिजोरम और अरुणाचल प्रदेश के बाद सिक्किम सबसे कम आबादी वाला राज्य है।

12 सबसे कम आबादी वाले राज्य/केंद्र शासित प्रदेश भारत की आबादी का केवल 1% योगदान करते हैं और 21 सबसे कम आबादी कुल का केवल 10% है

राज्य2021 (अनुमान)
सिक्किम6.77 लाख
मिजोरम12.16 लाख
अरुणाचल प्रदेश15.33 लाख
गोवा16 लाख
नगालैंड22 लाख
मणिपुर31.65 लाख
मेघालय33 लाख
त्रिपुरा41 लाख
हिमाचल प्रदेश74 लाख
Bharat Ki Jansankhya Kitni Hai? भारत की जनसंख्या कितनी है ?

Bharat Jansankhya अलग-अलग धर्मों के अनुसार:

धर्म का नामजनसंख्या प्रतिशत
हिन्दू79.8%
सिख1.72 %
बौद्ध0.7 %
इस्लाम14.2 %
जैन0.37 %
ईसाई2.3 %
अन्य धर्म को अपनाने वाले0.9 %
Bharat Ki Jansankhya Kitni Hai?

भारत (India) की जनसँख्या का फोरकास्ट 

हालांकि, लोगों में जागरूकता पैदा करने के सरकारी प्रयासों से भारत की बढ़ती जनसंख्या को नियंत्रित करने के लिए सभी प्रयास किए जा रहे हैं। लोगों में इस जागरूकता से लोगों को यह भी समझ में आ गया है कि एक छोटा परिवार एक खुशहाल परिवार होता है। जिससे जनसंख्या वृद्धि दर में कमी आई है। यही कारण है कि अब भारत की जनसंख्या वृद्धि दर 21.54% से घटकर 17.64% हो गई है। लेकिन जनसंख्या वृद्धि दर अभी भी अन्य देशों की तुलना में अधिक है।

Read also: UP Sewayojan Portal Online Registration

कुछ लोगों के मन में अक्सर यह सवाल उठता है कि अगले पांच से दस सालों में भारत की जनसंख्या कितनी होगी। क्या इसी तरह बढ़ता रहेगा? तो आप नीचे दी गई सूची से भारत की भविष्य की जनसंख्या का अनुमान लगा सकते हैं।

साल   जनसंख्या 
2020   138 करोड़ 
2025 144 करोड़ 50 लाख 
2030   150 करोड़ 03 लाख 
2035 155 करोड़ 37 लाख
2040 159 करोड़ 26 लाख
2045162 करोड़ 06 लाख
2050163 करोड़ 91 लाख
Bharat Ki Jansankhya Kitni Hai? भारत की जनसंख्या कितनी है?

Bharat ki jansankhya kitni hai 2020 – भारत की जनसंख्या कितनी है 2020

Bharat Ki Jansankhya Kitni Hai? भारत की जनसंख्या कितनी है ?
Bharat Ki Jansankhya Kitni Hai? भारत की जनसंख्या कितनी है ?

नमस्कार दोस्तों, भारत दुनिया का 7वां सबसे अधिक आबादी वाला देश है और एशिया का दूसरा सबसे अधिक आबादी वाला देश है। पहले 1.43 मिलियन की वर्तमान आबादी वाला चीन और 1.40 मिलियन के साथ भारत है।

यदि भारत की जनसंख्या इसी दर से बढ़ती रही तो निकट भविष्य में भारत जनसंख्या के मामले में चीन से आगे निकल जाएगा। वर्तमान में, चीन की कुल आबादी 143 मिलियन है और चीन ने अपनी बढ़ती आबादी को काफी हद तक नियंत्रित किया है।

1951 में, भारत की जनसंख्या 361,088,090 थी, स्वतंत्र भारत की यह पहली जनगणना थी, जिसके बाद सरकार द्वारा भारत में हर 10 साल में एक जनगणना करने का निर्णय लिया गया था, अब तक आधिकारिक तौर पर 7 जनगणनाएं की जा चुकी हैं।

Read also: Games Kharido

2011 तक, भारत की जनसंख्या 121 करोड़ बताई गई थी। भारत में पहली जनगणना 1872 में ब्रिटिश भारत द्वारा की गई थी। तब भारत की जनसंख्या 12.1 करोड़ थी। 2011 के बाद की जनगणना अभी पूरी नहीं हुई है, कोरोना महामारी के कारण 2021 की जनगणना नहीं हो सकी है, लेकिन अब तक भारत की जनसंख्या 2022 में 140 करोड़ तक पहुंचने का अनुमान है। 2020 तक भारत की जनसंख्या लगभग 138 करोड़ थी और अब इसके 140 करोड़ तक पहुंचने का अनुमान है।

Bharat ki jansankhya kitni hai 2021 – भारत की जनसंख्या कितनी है 2021

Bharat Ki Jansankhya Kitni Hai? भारत की जनसंख्या कितनी है ?
Bharat Ki Jansankhya Kitni Hai? भारत की जनसंख्या कितनी है ?

आप सभी जानते हैं कि भारत की जनगणना हर 10 साल में होती है। 2011 तक, भारत की जनसंख्या 121 करोड़ बताई गई थी। भारत में पहली जनगणना 1872 में ब्रिटिश भारत द्वारा की गई थी। तब भारत की जनसंख्या 12.1 करोड़ थी। 2011 के बाद की जनगणना अभी पूरी नहीं हुई है, कोरोना महामारी के कारण 2021 की जनगणना नहीं हो सकी है, लेकिन अब तक भारत की जनसंख्या 2022 में 140 करोड़ तक पहुंचने का अनुमान है।

मैंने इस लेख में पहले चर्चा की थी कि वर्तमान जनसंख्या क्या है और भविष्य में यह क्या हो सकती है। भारत जनसंख्या के मामले में चीन के बाद दूसरे स्थान पर है। अगर इस तरह से जनसंख्या बढ़ती है, तो देश की बेरोजगारी बढ़ती रहेगी।2011 में, भारत की जनसंख्या 221 करोड़ थी, जो 10 साल (2021) के बाद, भारत की जनसंख्या लगभग 139 करोड़ है। जिसकी वर्तमान में 2022 तक भारत में जनसंख्या 1,404,234,872 (140 करोड़) है, यदि जनसंख्या इसी तरह बढ़ती रही तो यह एक दिन चीन से आगे निकल सकता है। जो भारत के लिए बहुत अच्छा नहीं है।

FAQs

वर्तमान में भारत की आबादी कितनी है?

वर्तमान समय यानी साल 2022 में भारत की आबादी 1,412,002,332 (एक अरब 41 करोड़) है। जो चीन के बाद दुनिया में किसी देश की सबसे अधिक आबादी है।

भारत का सबसे अधिक जनसंख्या वाला राज्य कौन सा है?

भारत का सबसे अधिक जनसंख्या वाला राज्य उत्तर प्रदेश है वर्तमान में उत्तर प्रदेश की जनसंख्या 23.32 करोड़ है जो इसे अधिक आबादी वाला राज्य बनाता है।

साल 1951 में भारत की कुल आबादी कितनी थी?

साल 1951 में भारत की कुल आबादी 31 करोड़ थी जो अब बढ़कर 100 करोड़ से भी अधिक हो चुकी है 1951 में पहली बार स्वतंत्र भारत की जनगणना की गयी थी।

भारत में हिंदू और मुस्लिम की जनसंख्या कितनी है?

भारत में सबसे ज्यादा हिंदू लोगो की जनसंख्या है जो 100 करोड़ से भी अधिक है इसके बाद मुस्लिम लोग आते हैं जिनकी आबादी 20 करोड़ के करीब है।

भारत में महिलाओं की जनसंख्या कितनी है?

भारत में महिलाओं की जनसंख्या मर्दों की जनसंख्या के मुकाबले कम है साल 2011 में की गई जनगणना के अनुसार भारत में महिलाओं की कुल जनसंख्या 58,64,69,174 (58) के लगभग है।

2011 में भारत की कुल जनसंख्या कितनी थी?

2011 में भारत की कुल जनसंख्या 1,210,854,977 थी|

भारत में कितनी जनसंख्या है 2022?दुनिया का सबसे ज्यादा जनसंख्या वाला देश चीन है। जबकि भारत का दूसरा स्थान है। वर्तमान 2022 में भारत की जनसंख्या 1,404,234,872 (140 करोड़) है.

Conclusion:

नमस्कार दोस्तों, इस लेख के माध्यम से आज भारत की जनसंख्या कितनी है? (Bharat Ki Jansankhya Kitni Hai?) मुझे उम्मीद है कि इस जानकारी ने आपकी मदद की। अगर आपको यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो इसे अन्य लोगों के साथ भी शेयर करें। अगर आपके पास भारत की जनसंख्या से संबंधित कोई सवाल है तो हमें कमेंट करके बताएं। अंत तक हमारे साथ बने रहने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद। ऐसी और जानकारी के लिए हमारी वेबसाइट techyindiapro.com को बुकमार्क कर लें।

Leave a Comment